Cash में भीख देना बंद करें-निर्मला दहिया

विरेन्द्र चौधरी

आप भी मेरे साथ CASH से भीख देना बंद- अभियान का समर्थन और सहयोग करें
निर्मला दहिया

हमे लाचार गरीब या दान मांगकर अपना जीवन चलाने वाले लोगों को (भोजन , पानी , कपड़े , कम्बल इत्यादि ) देंने चाहिए। लेकिन नकद एक भी रुपया नहीं देना चाहिये।हमारे देश मे कई राज्य की सरकारें / गैर सरकारी संस्थाएं, इस दिशा में एक अलग आंदोलन शुरू करने की ओर कार्य करने की ओर अग्रसर हैं। जिस में हम ओर आप सभी को भी पूरा सहयोग देना चाहिये

मेरे साथ इस अभियान में सहयोग देने के लिये *जब आप से यदि किसी भी प्रकार का व्यक्ति (महिला / पुरुष / वृद्ध। विकलांग / बच्चे) भीख मांगता है, तो आप सभी यह प्रण करे कि हम पैसे के बदले (भोजन + पानी, कपड़े , सहयोग , सुरक्षा) देंगे, लेकिन आज से पैसे की भीख उन्हें हरगिज नहीं देंगे।जिसके परिणामस्वरूप संभावना है कि, अंतर्राष्ट्रीय / राष्ट्रीय / राज्य स्तर पर, ‘भिखारियों’ के गिरोह टूटेंगे और फिर छोटे बच्चों के अपहरण होने की इन गैंगों/माफियाओं की कोशिशें भी कम हो जाएंगी या अपने आप बंद हो जाए?
इस तरह के गिरोह आपराधिक दुनिया में समाज को खोखला करते हैं और नव जीवन की कोपलों को खिलने से पहले ही खत्म कर देते हैं।

इसलिये इस अभियान को आगे बढ़ाने के लिये हम सभी को एक प्रण लेना होगा कि एक भी भिखारी को रुपया नहीं देंगे। अगर आप दान स्वरूप किसी को कुछ देना भी चाहे तो अपने साथ कार/स्कूटर में 2 बिस्किट के पैकेट, अन्न जल भोजन इत्यादि रखें लेकिन रुपए पैसे भुगतान न करें ।यदि आप इस अभियान से सहमत हैं, तो इस विचार को सोच कर अंगीकृत करें,क्योंकि किसी मां बाप के कलेजे के टुकड़े किडनैप होने और फिर उनकी दुर्गति होने से बचाने में आपका योगदान, समाज को बेहतर बनाने में, आपके सार्थक प्रयास के रूप में जुड़ सकते है।

News Reporter

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *