विरेन्द्र चौधरी/हरिन्द्र लांबा


सहारनपुर।भारत सरकार द्वारा यूनाइटेड किंगडम तथा अन्य यूरोपियन यूनियन के देशों में कोविड वायरस के नए स्ट्रेन की सूचना को ध्यान में रखते हुए इन देशों से वापस आने वाले यात्रियों की सर्विलांस एवं जांच हेतु दिशा निर्देश जारी किये गये है।
मुख्य चिकित्साधिकारी डाॅ0 बी0एस0सोढी ने आज यहां यह जानकारी दी। उन्होने कहा कि ऐसे सभी यात्री जो यूनाइटेड किंगडम तथा अन्य यूरोपियन यूनियन से 09 दिसम्बर 2020 के बाद आये है, भारत आगमन के उपरान्त 28 दिन की अवधि तक सर्विलांस में रखा जायेगा। अपेक्षित है कि यात्री स्वयं अपने विषय में जनपद के मुख्य चिकित्साधिकारी कार्यालय अथवा जनपदीय सर्विलांस यूनिट को सूचना दें। ऐसे सभी यात्रियों की अनिवार्य रूप से आर0टी0पी0सी0आर0 विधि द्वारा जांच करायी जाये। धनात्मक पाए जाने पर अनिवार्य रूप से कोविड फैसिलिटी में पृथक वार्ड की व्यवस्था करते हुए इंस्टिट्यूशनल आइसोलेशन किया जाए। कोविड ऋणात्मक पाए गए यात्रियों को भी अवगत कराया जाये कि उनसे भी यह अपेक्षित है कि वे भारत में आगमन के उपरान्त 28 दिवसों तक अपने स्वास्थ्य एवं स्वयं निगरानी करते हुए खांसी, बुखार अथवा सांस फूलने जैसी किसी लक्षण के प्रकट होने पर तत्काल कोविड रोग हेतु अपनी जांच कराये। ऐसे सभी व्यक्तियों की इंटीग्रेटेड कमांड एण्ड कण्ट्रोल सेण्टर के माध्यम से 28 दिन तक नियमित रूप से निगरानी की जाये।
डाॅ0 बी0एस0सोढी ने बताया कि कोविड-19 से बचने के लिए क्या करें – भीड से बचें। कम से कम लोगों से हाथ मिलायें व बार-बार हाथ धोने की आदत डालें। बीमारी के लक्षण जैसे बुखार, सर्दी, जुकाम, खांसी, खराश, बदन दर्द आदि दिखायी देने पर तुरन्त सरकारी अस्पताल में सम्पर्क करें। एक दूसरे के मुंह की तरफ छींकने, खांसने से बचें। नाक मुंह पर कपडा/टीशू पेपर रखकर छींकने एवं खांसने की आदत डालें। कपडे को डिटरजेंट से धोंयंे एवं धूप में सुखायंे तथा दूसरे कपडों से अलग रखें। फ्लू होने की स्थिति में घर पर आराम करें तथा वार्तालाप के समय एक हाथ या उससे अधिक दूरी बनाये रखें ताकि थूक आदि के कण एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में ना पंहुचे। चिकित्सक से सम्पर्क करें।
मुख्य चिकित्साधिकारी ने बताया कि क्या न करें – जहां तक सम्भव हो भीड वाले स्थानों जैसे माॅल्स, सिनेमा घर, पार्क, रेलवे स्टेशन, मेले, पार्टी, होटल आदि में न जायें। अनावश्यक यात्रा न करें। किसी पाॅजिटिव रोगी के सम्पर्क में आने से बचें। किसी भी व्यक्ति जिसे जुकाम, खांसी, बुखार हो बिना मास्क या रूमाल के उसके करीब न जायें।

कोविड वैक्सीनेशन अभियान के लिए जनपद स्तरीय कंट्रोल रूप स्थापितकंट्रोल रूम के संचालन हेतु मुख्य विकास अधिकारी की
अध्यक्षता में 11 सदस्यीय समिति गठित


मुख्य चिकित्साधिकारी डाॅ0 बी0एस0सोढी ने कहा कि कोविड वैक्सीनेशन अभियान के लिए जनपद स्तरीय कन्ट्रोल रूम की स्थापना की गयी है।
मुख्य चिकित्साधिकारी डाॅ0 बी0एस0सोढी ने आज यहां यह जानकारी दी। उन्होने बताया कि जिलाधिकारी द्वारा दिये गये निर्देशानुसार आगामी माह में संचालित होने वाले कोविड वैक्सीनेशन अभियान हेतु जनपद स्तरीय कन्ट्रोल रूम की स्थापना की गयी है। उन्होने बताया कि मुख्य चिकित्साधिकारी कन्ट्रोल रूम के अध्यक्ष तथा वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अथवा उनके द्वारा नामित अधिकारी, जिला प्रतिरक्षण अधिकारी, जिला कार्यक्रम अधिकारी (आई0सी0डी0एस0), अध्यक्ष आई0एम0ए0, जिला सूचना अधिकारी, नोडल अधिकारी (एन0यू0एच0एम0), एस0एम0ओ0, एन0पी0एस0पी0, डी0एम0सी0 यूनिसेफ एवं कोर, डी0एफ0पी0एस0, यू0पी0टी0एस0यू0 तथा वी0सी0सी0एम0 यू0एन0डी0पी0 सदस्य होंगे।
डाॅ0 बी0एस0सोढी ने बताया कि कन्ट्रोल रूम का दूरभाष नम्बर 0132-2716204 रहेगा। उन्होने कहा कि कन्ट्रोल रूम द्वारा टीकाकरण की तैयारी तथा कार्यक्रम की समीक्षा नियमित रूप से की जायेगी तथा ए0ई0एफ0आई0 प्रबन्धन, मीडिया मैनेजमेंट, अन्र्तविभागीय समन्वय तथा आपातकालीन परिस्थितियों का प्रबन्धन किया जायेगा।

सहयोग सूचना विभाग

News Reporter

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *