सहारनपुर विकास प्राधिकरण प्रदेश में सबसे आगे – इंजी०बज़ाज

सविप्रा को अव्वल बनाने पर सहारनपुर आर्किटेक्ट एंड इंजिनियर्स एसोसिएशन का महत्वपूर्ण योगदान-इंजीo बजाज

विरेन्द्र चौधरी
सहारनपुर।अवैध बिल्डिंगों के शमन शुल्क में हालांकि सहारनपुर विकास प्राधिकरण ने प्रदेश के अन्य विकास प्राधिकरणों को पछाड़ अव्वल स्थान प्राप्त किया है,परन्तु सविप्रा को इस मुकाम तक पहुंचाने में सहारनपुर आर्किटेक्ट एंड इंजीनियर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष एंव सदस्यों का सबसे बड़ा योगदान है।क्योंकि एसोसिएशन के सदस्यों ने कंपाउंडिंग के लिए पचास से अधिक फाइलें सविप्रा में जमा कराई है।
महानगर में विकसित की गई अनियमित कालोनियों को नियमित करने का जो फैसला सहारनपुर प्राधिकरण ने उसका प्रचार-प्रसार किया, उससे निर्माणकर्त्ताओं को अपने व्यवसायिक तथा आवासीय भवनों को कंपाउंड कराने का दबाव बना।सरकारी आंकडो के अनुसार अवैध बिल्डिंग के शमन कराने के 105 आवेदन प्राप्त हो गये है।जबकि सहारनपुर आर्किटेक्ट एंड इंजिनियर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष इंजीनियर जे एस बजाज के अनुसार ये संख्या 105 से अधिक बढ़ सकती है। जे एस बज़ाज ने कहा कि सहारनपुर विकास प्राधिकरण में कंपाउंडिंग की फाइलों को जमा कराने की व्यवस्था को और सुधार कर लिया जायें तो कंपाउंडिंग के माध्यम से सविप्रा प्रदेश को सबसे अधिक राजस्व देने वाला बन सकता है।सहारनपुर आर्किटेक्ट एंड इंजिनियर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष ने अवैध बिल्डिंग के शमन स्रोत में प्रदेश के सभी विकास प्राधिकरणों में प्रथम स्थान पाने पर जहां सविप्रा के अध्यक्ष एंव मंडलायुक्त संजय कुमार उपाध्याय ज्ञानेन्द्र सिंह तथा अधिशासी अभियंता ए के मिश्रा को बधाई दी तो वहीं इसके लिए सहारनपुर आर्किटेक्ट एंड इंजिनियर्स एसोसिएशन से सभी आर्किटेक्टस् व इंजिनियर्स का आभार जताते हुए उन्हें अधिक से अधिक शमन की फाइलें सविप्रा में जमा कराने की अपील की,ताकि आम जन के अवैध निर्माण वैध श्रेणी में सम्मिलित हो सके।

News Reporter

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *