नगर निगम रिकार्ड रूम का चपरासी को चार्ज क्यों ? मुंडन

बसपा सांसद के करीबी चपरासी को रिकार्ड रूम नगर निगम का चार्ज क्यों ?

महापौर को किया जा रहा है गुमराह-सही बात की उन्हें नही दी जाती है जानकारी

बसपा संसद के दबाव में गांधी पार्क का ठेका भी सांसद के करीबी को ★ इरशाद खान मुंडन

Virendra Chaudhary

सहारनपुर बीजेपी के वरिष्ठ नेता इरशाद खान मुंडन ने कहा कि नगर निगम में रिकार्ड रूम में तैनात एक चपरसी जो बाबू के पद पर कार्य कर रहा है वो महापौर के स्थान पर बसपा सांसद के इशारे पर कार्य करता है, गांधी पार्क का ठेका भी सांसद के चेलो को रेवड़ी के भाव दे रखा है। बीजेपी कार्यकर्ताओं और पार्षदों के कहने पर नगर आयुक्त ने उक्त चपरासी को नही हठाया। इसका कारण है जो लोग कमेले का ठेका लेते है वो उसी स्थान पर समानांतर कमेला चलाते है, जिनकी कम से कम 4 गाड़ी मांस की गाज़ियाबाद साहिबाबाद की एक फैक्ट्री में सप्लाई होती है और वो लोग बसपा से जुड़े है। माहवार उस चपड़ासी उर्फ बाबू की सेवा करते है। नगर आयुक्त भी दबाव में उक्त चपरासी को रिकार्ड रूम से नही हटाते है। नगर निगम की कोई भी गतिविधि हो वो बसपा नेताओ की नॉलिज में रहती है, जिससे महापौर व भाजपा के लिए लिये घातक सिद्ध होगी ।

इरशाद मुंडन ने जारी ब्यान में कहा कि तमाम बीजेपी कार्यकर्ताओं व पार्षदों की शिकायत के बाद भी उक्त चपरासी को हटाया नही गया है। मुंडन ने सवाल खड़ा किया कि क्या नगरआयुक्त की कोई कमज़ोरी इस चपरासी के हाथ लग गयी है, जिससे वो इसको हटाने में असमर्थ है या वो किसी के दबाव में है, ये सोचने का विषय है
इरशाद मुंडन ने कहा मैं भाजपा कार्यकर्त्ता होने के नाते महापौर सहारनपुर से उक्त चपरासी को रिकार्ड रुम से हटाया जाने व इसके द्वारा किये गए प्रतेयक कार्य का आडिट बारीकी से कराये जाने की मांग करता हुं। उन्होंने कहा कि ऐसे पार्टी
कार्यकर्ताओं की बात को सुना जाना चाहिए जो पार्टी और पार्टी के महापौर के लिये अपना जीवन दान कर सकते है। मुंडन ने कहा पार्टी और महापौर विरोधी मानसिकता के लोगो को बर्दाश्त नहीं किया जा सकता। उन्होंने महापौर से मांग करते हुए कहा कि भाजपा समर्पित कार्यकर्त्ताओं की बात को सुना जाये और निगम में बसपा समर्थित तमाम ठेकोदारो के कामो की बारीकी से जांच कराई जायें।

News Reporter

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *