ब्राह्मण एकता का अहसास कराएगा ब्राह्मण समाज महासंघ

देहरादून,। न्यू केंट रोड, हाथी बड कला में हुई ब्राह्मण महासंघ की मासिक बैठक में ब्राह्मणों की एकता पर बल दिया गया । उक्त जानकारी विरेन्द्र दत्त शब्द द्वारा जारी की गई।

बैठक में वक्ताओं द्वारा कहा गया कि एकता में बड़ी ताकत होती है, सभी इसके आगे नतमस्तक होते हैं । नगर के दस ब्राह्मण सँगठनों के संयुक्त मंच ब्राह्मण समाज महासंघ सामुहिक एजेंडे के अंतर्गत कार्यक्रमो का आयोजन करेगा । समाज में आर्थिक व सामाजिक रूप से कमजोर ब्राह्मण बन्धुओं की मदद कर उनको आत्मनिर्भर बनाएगा । बैठक में राज्य सरकार द्वारा लाये गए देवस्थानम बोर्ड (श्राइन बोर्ड) के गठन की बिना सलाह मशविरा के थोपने की निंदा की गई । इसके अंतर्गत केवल उन्हीं हिन्दू मन्दिरों को अधिगृहत किया गया है, जो मोटी कमाई वाले है । राज्य में जीर्ण शीर्ण अवस्था मे पड़े मंदिर क्यों छोड़ दिये गए । ये बोर्ड पीढ़ी दर पीढ़ी चले आ रहे मंदिरो के पुजारियों के अधिकारों को छीनने जा रहा है व उन्हें मात्र कर्मचारी बनाकर रख देगा । बैठक में सवाल उठाया गया कि मात्र हिन्दू मंदिरो का ही अधिग्रहण क्यों ? बैठक में वक्ताओं द्वारा केंद्र द्वारा पारित नागरिक संशोधन बिल को देश हित में बताते हुए इसके समर्थन की बात कही गई तथा एक वर्ग विशेष द्वारा किये जा रहे विरोध की आड़ में फैलाई जा रही अराजकता की पुरजोर निंदा भी की गई । महासचिव अरुण कुमार शर्मा द्वारा सभी सँगठनों के प्रतिनिधियो से लिखित रुप में सुझाव मांगे गए ।

बैठक की अध्यक्षता उप मुख्य संयोजक एस पी पाठक जी ने की तथा संचालन महासचिव अरुण कुमार शर्मा ने किया । बैठक में सर्वश्री डॉ. वी डी शर्मा, पं. थानेश्वर उपाध्याय, पं. रामप्रसाद गौतम, शशि शर्मा, राजेन्द्र प्रसाद शर्मा, मनमोहन शर्मा, राजेश शर्मा, हरि कृष्ण शर्मा, राजेश मोहन, राजेन्द्र व्यास, प्रमोद मेहता,अतुल तिवाड़ी, अखिल त्रिपाठी , बृजमोहन शर्मा व केशव प्रसाद पचौरी आदि उपस्तिथ थे ।

News Reporter

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *